Political Career of Upendra Kushwaha

Upendra got involved in politics in 1985. From 1985 to 1988, he was Yuva Lok Dal’s General Secretary and its National General Secretary from 1988 to 1993. He assumed more importance in the state politics when he went on to become General Secretary of Samata Party in 1994. Upendra remained in that position till 2002.

It was in 2000 when Upendra got elected to the Bihar Assembly. He became Samata Party’s Deputy Leader at the assembly and remained in that post till 2004. However, he became the Leader of Opposition in Bihar Assembly in March 2004 and successfully managed his responsibilities till February 2005.

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी उपेंद्र कुशवाहा द्वारा लॉन्च की गयी। राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने लोगों की आर्थिक बिहार के विकास और कल्याण को सुनिश्चित अगर RLSP ठोस परिणाम के मामले में एक वितरण की पेशकश की। राष्ट्रीय दल एक राष्ट्र का प्रतिनिधित्व करता है और यह दल बिहार की अद्भुत भविष्य का प्रतिनिधित्व करता है।हमारी पार्टी युवाओं और किसानों की ताकत से बिहार का नवनिर्माण करेगी.‘जय जवान जय किसान-मिलके करेंगे नवनिर्माण’

Read More !

रालोसपा राष्ट्रीयता को प्रधानतम रखता है, हर भारतीय, चाहे उसकी जाति, पंथ या धर्म कुछ भी हो वो सब से पहले एक भारतीय है जहां सच 'राष्ट्रीय' राजनीति में विश्वास रखता है। यह कुरीति  और समाज के विभाजन की संकीर्ण राजनीति में विश्वास नहीं करता। पार्टी के एजेंडे को देश के लिए अपने प्यार के आधार पर लोगों को एकजुट करने के लिए है। इस पहचान को प्रधानता एक बार फिर से एक सांस्कृतिक और आर्थिक महाशक्ति के रूप में भारत का फिर से उद्भव के लिए मार्ग चार्ट होगा और यह हमारे देश के लिए गौरव प्रदान करेगा।

Read More !

एक तथ्य के आधार पर कार्यान्वित होने के लिए पार्टी के कारण पार्टी का प्रसार-संचार, और कैसे देश के लिए अपनी प्रमुख प्रधान जनता की सेवा करना ही लक्ष्य है। यह सरकार या समुदायों की तरह नहीं बल्कि हमारे लोकतांत्रिक लोगों के लिए हम सामाजिक या पर्यावरणीय प्रभाव के रूप साबित होते हैं। विचार-विमर्श उद्देश्य है। मूल्यों का आधार एक व्यक्ति या समूह का विश्वास बनाए रखना हैं, और इस मामले में संगठन को हर प्रकार से यानि, जिसमें तथ्यात्मक और भावनात्मक रूप से निर्णयबध्य होना होगा अटल और अविचारणीय स्तिथि के समक्ष ।

Read More !

Give us a Miss Call for Membership : 1800 - 313 - 1838

Dial No